हनुमान चालीसा | Hanuman Chalisa in hindi

Hanuman

हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa in hindi) भारतीय हिंदू मान्यता के अनुसार कई वर्षो पहले बहुत सारे देवी और देवताओं ने मनुष्य रूप में जन्म लिया, उन्ही में से एक हैं, पवनपुत्र हनुमान, जिन्हें देवों के देव महादेव यानी भगवान शंकर का अंश माना जाता है। भारतीय हिंदू धर्म में हनुमान जी को प्रभु राम का

All About Dussehra

All About Dussehra

“सायक एक नाभि सर सोषा। अपर लगे भुज सिर करि रोषा॥ लै सिर बाहु चले नाराचा। सिर भुज हीन रुंड महि नाचा॥ “लै सिर बाहु चले नाराचा। सिर भुज हीन रुंड महि नाचा॥ “ भावार्थ :- एक बाण ने नाभि के अमृत कुंड को सोख लिया। दूसरे तीस बाण कोप करके उसके सिरों और भुजाओं

युधिष्ठिर का वध क्यों करना चाहते थे अर्जुन, कैसे और क्यों हुई ये विचित्र घटना

युधिष्ठिर का वध क्यों करना चाहते थे अर्जुन, कैसे और क्यों हुई ये विचित्र घटना

युधिष्ठिर का वध क्यों करना चाहते थे अर्जुन, कैसे और क्यों हुई ये विचित्र घटना- महाभारत के प्रमुख पात्र अर्जुन अपने बड़े भाई युधिष्ठिर को बहुत ही मान- सम्मान देते थे, ये बात सभी जानते हैं, लेकिन यह बात बहुत कम जानते हैं कि एक बार अर्जुन ने युधिष्ठिर का वध करने के लिए तलवार

पर्वतमाला योजना 2023 यूपी फ्री साइकिल योजना 2023, ऑनलाइन आवेदन e-Shram Card : पैसे आना हो गये हैं शुरू, क्या आपके खाते में आ गए उत्तर प्रदेश प्राइवेट ट्यूबवेल कनेक्शन योजना Best Indoor Plants That Grow In Water