Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers

Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers

मां शब्द अपने आप में ही एक एहसाह हैं, और मां के बारे में जितना भी लिखा जाए वो कम ही पड़ेगा, क्यूंकि मां अपने आप में अनंत हैं।

एक माँ एक ऐसी शख्सियत है जो दुनिया में जीवन लाती है और प्यार, देखभाल और अंतहीन धैर्य, बिना किसी चीज़ की अपेक्षा के साथ उसका पालन-पोषण करती है। वह एक परिवार की रीढ़ है, जो सब कुछ एक साथ रखती है और सभी को खुश और प्रेरित करती है।

एक माँ का प्यार बिना शर्त और अथाह है, और यह दुनिया की सबसे शक्तिशाली शक्ति है।कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसके सामने कितनी चुनौतियाँ और कठिनाइयाँ आती हैं, एक माँ हमेशा अपने बच्चों की ज़रूरतों को अपने से पहले रखती है और उन्हें सर्वोत्तम संभव जीवन प्रदान करने के लिए अथक प्रयास करती है।

वह एक रोल मॉडल, एक शिक्षक और एक दोस्त है, और उसके बच्चों पर उसका प्रभाव गहरा और लंबे समय तक चलने वाला है।

माँ का प्यार शक्ति और प्रेरणा का स्रोत है, और इसमें किसी भी बाधा को पार करने की शक्ति है। एक माँ के लिए, उसके बच्चे सबसे कीमती उपहार होते हैं जो जीवन ने उसे दिया है, और वह उनकी रक्षा और समर्थन के लिए कुछ भी करने के लिए सदैव तत्पर रहती हैं।

संक्षेप में, एक माँ अपने बच्चों के जीवन में एक नायक, एक अभिभावक देवदूत और एक चमकदार रोशनी होती है, और वह दुनिया के सभी प्यार, सम्मान और प्रशंसा की हकदार होती है।

मां एक पल नही, वो पूरी यादों का भंडार हैं, मां का दर्जा भगवान से भी ऊपर हैं, वो कहते हैं न जब बच्चा जन्म लेता है तो वह अपनी जीवन में जो पहला शब्द सीखता है वो शब्द “मां” हैं।

यहाँ पर जो आपको Poem on Mom in Hindi, Maa Kavita को दिया गया हैं. वह बहुत ही स्पेशल कविताएँ हैं. जिसे आप मदर्स डे के दिन भी अपनी माँ को सुना सकते हैं. और इन कविताओं को अपने मित्रों के साथ शेयर भी कर सकते हैं. Poem on Mother in Hindi, माँ पर कविताएं, Hindi Poems on Mothers, Poem on Mom in Hindi, Maa Kavita.

Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers
माँ पर कविताएं

01. Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers

माँ…

कितना अच्छा लगता है ना! जब हम माँ
बोलते हैं।

मैंने अक्सर माँ को लिखना चाहा, सिर्फ़ लिख देने भर के लिए नहीं बल्कि इसलिए कि दुनिया का इतिहास जब भी खंगोला जाए तो माँ उसमें सबसे ऊपर हो, जैसे की शुरुआत से रही है। दुनिया में प्रेम से सबकुछ है, ये सत्य है। लेकिन माँ से सबकुछ है; ये अटल और अमिट सत्य है।

जब मैं दिल्ली से घर आया। माँ बहुत खुश हुई। फिर अगले दिन माँ का “मासिक धर्म/महावारी” जिसे हमारा समाज अपवित्र या जो भी कहता है! मैंने माँ से बिन पूछे, बिन कहे खाना बना दिया।

माँ को जब पता चला माँ कि आंखों से आंसू निकल आए। उस दिन अगर में दुनिया का सबसे कठोर पत्थर भी होता ना!
शायद पिघल जाता या यूं कह लो पिघल कर बह जाता।

मैं ये नहीं कह रहा कि माँ की आंखों में इससे पहले आंसू नहीं आए; आंसू तो आए लेकिन इन आंसू की चमक के पीछे सब आंसूओं की चमक फीकी थी। मैंने पहली दफा जाना कि आंसू इतने चमकीले भी होते हैं।

मैं चाहता तो कह सकता था कि माँ मैंने दिल्ली जाकर सिर्फ़ अपनी ख्वाहिश छिपाना नहीं सीखा। मैं खाना बनाना भी सीख गया हूं। बेलन तले बनते भारत-पाकिस्तान के नक्शे, अब गोल-गोल होने लगे हैं। आपके बगल में अलाव से आंच सेंकते-सेंकते मैं रोटियां सेकना सीख गया हूं!

मुझे लगता है दुनिया की ऐसी कोई अच्छाई या खुशी नहीं है जो कभी माँ से अनछुई रही हो। अरे! पापा के कपड़े प्यार से संजोकर रखने वाली माँ हमारे ज़रूरी काग़ज़ भी हिफाज़त से रखती है। और क्या ही दिक्कत है अगर महीने में हमने कुछेक दिन माँ की दिल से मदद कर दी तो!

माँ तुम्हारे लिए और कुछ करने की मेरी हैसियत कहां है,
मुझे तो इतना पता है; समाज…समाज है, मां… मां है।

“मां तुम्हारे लिए एक दिन नहीं, तुम्हीं से हर दिन है।”

02. दूसरी कविता

प्यारी मां

किशोरावस्था की दहलीज पे पैर पड़ चुके हैं,
आत्मनिर्भर भी होने लगा हूं
फिर भी गर्मी के दिनों में पेप्सी और कुल्फी के लिए
मां से पैसे मांगने में मज़ा आता है।
एक तो खुद के पैसे बच जाते हैं…🤩
दूसरा मां कभी मना नहीं करती।

बिना धनराशि जमा किए,
बोनस(लाभांश), कमीशन,
ऑफ़र, डिस्काउंट सब मिल जाता है –
‘मां दुनिया की एकमात्र ऐसी बैंक है।’ जहां

प्रेम का लोन भी मिलता हैं बिना किसी भरपाई के,
मूलराशि देने वाला ही ब्याज देता है और वो भी खुशी खुशी।

मां तेरा कोई मोल नहीं
दुनिया में मां जैसा कोई बोल नहीं।

03. अगली Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers

मां एक परिवार की सूत्रधार

माँ तो माँ होती है
चाहे इस जहान में हो या उस जहान में
उसकी यादें दिल में जवां होती हैं।।

कैसी है तूं ?
क्या खाया तूने?
कब आएगी घर ?
तेरा चेहरा उतरा क्यूँ है ?
हर दम ऐसे सवाल करती है।
वो पिता की तरक्की की भागीदार
बच्चों का भविष्य और हर परिस्थिति में

परिवार की मददगार होती है।
सबकी जिम्मेदारी पूरी करते करते
एक दिन वो चिरनिद्रा सो जाती है।
उसके होने न होने का अहसास

तब समझ आता है।
जब घर को जोड़ कर रखने वाला इन्सान
इस दुनिया से नाता तोड़ जाता है।
तभी तो हर शख्स उसकी यादों से जुड़ा रहता है।
वो रहे न रहे उसके प्यार की छाँव में पड़ा रहता है।
ऐसे ही नहीं वो एक परिवार की सूत्रधार होती है।

Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers
माँ पर कविताएं

04. अगली कविता On Mother

माँ
मेरी रखी वस्तुएं मुझे मिलती ही नहीं है,

और आप….
आप चुटकियों में ढूंढ़ देती हो सबकुछ।।

05. Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers

मां, तू ही है हमारी संसार की प्रतिष्ठा

मां, तू ही है पूरा विश्व
तू ही है सभी जगह सुख संगति
मां, तू ही है अनमोल अमृत
तू ही है संसार की सुंदरता

तू ही है हमारी संस्कृति
तू ही है हमारी परम्परा
मां, तू ही है हमारी आशीर्वाद
तू ही है हमारी प्रशांति और शांति

मां, तू ही है हमारी शक्ति
तू ही है हमारी प्रसन्नता
मां, तू ही है हमारी आशा
तू ही है हमारी संतुष्टि और आनंद

मां, तू ही है हमारी सुख
तू ही है हमारी संतुष्टि
मां, तू ही है हमारी जीवन
तू ही है हमारी स्वर्ग और सुख

मां, तू ही है हमारी अहंकार का नाश
तू ही है हमारी परम संतुष्टि और आशा

मां, तू ही है हमारी संसार की प्रतिष्ठा
तू ही है हमारी संस्कृति की प्रतिष्ठा
मां, तू ही है हमारी जीवन की प्रतिष्ठा
तू ही है हमारी सुख और समृद्धि की प्रतिष्ठा

मां, तू ही है हमारी महान सेवा
तू ही है हमारी जीवन की प्रतिष्ठा
मां, तू ही है हमारी संतुष्टि और आनंद
तू ही है हमारी पूर्णता की प्रतिष्ठा

मां, तू ही है हमारी जीवन का आधार
तू ही है हमारी आशा और उमंग
मां, तू ही है हमारी सुख और समृद्धि
तू ही है हमारी प्रतिष्ठा और शान्ति।

Poem on Mother in Hindi, माँ पर कविताएं, Hindi Poems on Mothers, Poem on Mom in Hindi, Maa Kavita.

अन्य पढ़े

छठ पूजा हिंदी कविता | Chhath Puja Poem In Hindi

आपको यह Poem on Mother in Hindi, माँ पर कविताएं कैसी लगी अपने Comments के माध्यम से ज़रूर बताइयेगा। अगर आपको यह कविता अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ Share जरुर करे।

1 thought on “Poem on Mother in Hindi | माँ पर कविताएं | Hindi Poems on Mothers”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

पर्वतमाला योजना 2023 यूपी फ्री साइकिल योजना 2023, ऑनलाइन आवेदन e-Shram Card : पैसे आना हो गये हैं शुरू, क्या आपके खाते में आ गए उत्तर प्रदेश प्राइवेट ट्यूबवेल कनेक्शन योजना Best Indoor Plants That Grow In Water
%d bloggers like this: